TCS company

TCS company case study in Hindi ?

Spread the love

TCS company case study in Hindi ?

नमस्कार दोस्तों। आज हम बात करने वाले हैं टीसीएस कंपनी के बारे में जो कि रतन टाटा जी की कंपनी है। आज हम टीसीएस कंपनी की केस स्टडी में इस कंपनी के प्रोडक्ट और सर्विसेज के बारे में जानेंगे और इस कंपनी से जुड़ी सभी गतिविधियों के बारे में जानेंगे।

tcs comapy
TCS case study

TCS company के बारे में ?

1) टाटा कंसलटेंसी सर्विस (TCS) कंपनी की शुरुआत 1968 में हुई थी। जब टाटा संस लिमिटेड का Division हुआ था। 1981 में टीसीएस पहली ऐसी कंपनी थी जब सॉफ्टवेयर रिसर्च एंड डेवलपमेंट पर काम करती थी। 2005 में टीसीएस पहली ऐसी भारतीय कंपनी बनी जो इनफॉर्मेटिक मार्केट में शामिल हुई।

2) टीसीएस भारत की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है आज टीसीएस का Market capitalisation ₹6,79,332.81 crore ($102.6 billion) इतना हो चुका है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के बाद। आज टीसीएस कंपनी आईटी सर्विस का एक बहुत बड़ा ब्रांड बन चुकी है। Forbes की रिपोर्ट के अनुसार TCS company world most innovative companies में 64 rank पर आती है। फॉर्च्यून इंडिया 500 की लिस्ट में टीसीएस कंपनी पहली ऐसी कंपनी बन गई है जिसने 100 बिलियन डॉलर मार्केट कैप लाइजेशन पार कर लिया है।

3) टीसीएस कंपनी के चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन जी हैं और राजेश गोपीनाथन एमडी और सीईओ हैं। टीसीएस कंपनी का हेड क्वार्टर मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया में है। आज किस कंपनी के भीतर 469,261 लोग काम करते हैं। TCS की पैरंट कंपनी टाटा संस है टीसीएस की सब्सिडियरी कंपनी TCS China और TRDDC है।

4) TCS company टाटा ग्रुप की सबसे बड़ी कंपनी है और यह 46 देशों में 149 जगहों पर काम करती है। टीसीएस कंपनी का रेवेन्यू ₹161,541 crore (US$23 billion) है। और वही टीसीएस कंपनी की नेट इनकम ₹32,340 crore (US$4.5 billion) है।

5) टीसीएस कंपनी के प्रोडक्ट और सर्विस। इस कंपनी के Product and services कुछ इस प्रकार हैं:-

1) Hospital management software (TATA- HMS).

2) Tata bio suit.

3) Master craft (modelling tool for software architecture).

4) Adex (modelling tool and repository for storing application models).

5) APolo (insurance and software).

6) IIMS (integrated insurance management system).

6) TCS Company किन सेक्टर में लोगों को बिजनेस के लिए सर्विस देती है। वह कुछ इस प्रकार हैं:-

1) Manufacturing.

2) Insurance.

3) Banking.

4) Financial services.

5) Energy and utilities.

6) Retail and consumer goods.

7) Transportation.

8) Telecom.

9) Government.

10) Life science and healthcare.

11) Media and entertainment.

7) TCS कौन-कौन सी सर्विस बिजनेस को उपलब्ध कराती है।

TCS company जो कुछ खास तरह की सर्विसेज लोगों को बिजनेस के लिए प्रोवाइड कराती है। वह कुछ इस प्रकार हैं:-

1) Global consulting.

  • It consulting.
  • Business consulting.
  • Quality consulting.

2) IT infrastructure.

  • Product and process engineering.
  • Embedded system.
  • Plant automation service.
  • Enterprise asset management.

3) BPO

  • Inbound call center.
  • Back office support.
  • Engineering services.
  • Database services.
  • Clinical database management.
  • Statistical analysis and medical writing.

4) asset based solutions.

  • It product.
  • Product and services.

5) IT services

  • Application development.
  • Maintenance reengineering and testing.
  • Packaged software.
  • Implementation, system integration.

8) TCS company का कंपटीशन कौन-कौन सी कंपनियों से है ?

  1. Infosys technology limited.
  2. Tech Mahindra.
  3. Wipro cooperation.
  4. Sapient cooperation.
  5. IBM.
  6. HCL technologies.
  7. Oracle.
  8. Hawlett packerd global software limited.

और भी कुछ छोटी कंपनियां है।

9) अब बात करेंगे TCS company के SWOT analysis बारे में।

इससे हमें पता चलेगा कि इस कंपनी के पास कितनी स्टंट है कौन सी कमजोरियां हैं कितने अवसर हैं और कितने रिस्क हैं आइए देखते हैं:-

1) Strength:-

  • Client market- टीसीएस कंपनी क्लाइंट मार्केट बहुत बड़ा है और यह कंपनी के लिए सबसे अच्छी चीज है टीसीएस कंपनी ज्यादातर क्लाइंट इन सेक्टर से आते हैं retail financial service telecom media and entertainment government science and healthcare manufacturing आदि। TCS company का Client market ज्यादा बड़ा होने के कारण TCS का इस मार्केट में रिस्क Diversify हो जाता है।
  • Geographic area- जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया है कि TCS 46 देशों में 149 जगहों पर काम करती है इससे हमें यह पता चलता है कि इसका Geographic area बहुत बड़ा है और यह कंपनी के लिए एक अच्छी बात है।
  • Partnership network- टीसीएस कंपनी की दूसरी कंपनियों के साथ एक अच्छा संबंध है यह एक बड़े लेवल पर साथ में काम करते हैं इनमें से कुछ कंपनियां इस प्रकार है- Amazon, Bosch, Dell, HP और , Adobe आदि। इस पार्टनरशिप की वजह से TCS कंपनी नई टेक्नोलॉजी और इनोवेशन की तरफ Strategically grow कर रही है।
  • Strong Portfolio- टीसीएस कंपनी ज्यादा सेक्टर में काम करती है जैसे बिजनेस मैनेजमेंट, एप्लीकेशन डेवलपमेंट, बिजनेस इंटेलिजेंस, आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर जिसकी वजह से यह कंपनी ज्यादा से ज्यादा क्लाइंट को अपनी तरफ आकर्षित करती है और इससे कंपनी का Strong portfolio तैयार होता है और यह कंपनी के लिए एक अच्छी निशानी है।

2) Weakness:-

  • Legal problems- 2014 में, TCS एपिक सिस्टम की गोपनीय जानकारी के कथित दुरुपयोग के लिए एपिक सिस्टम के खिलाफ कानूनी लड़ाई में शामिल था। 2016 में, TCS को दोषी पाया गया और उसे 940 मिलियन डॉलर का हर्जाना देने का आदेश दिया गया। टीसीएस ने फैसले का विरोध किया है और इसे उच्च न्यायालय में चुनौती दी है। इस तरह की घटनाओं से कंपनी की छवि प्रभावित होती है।
  • Diligenta company (Decline in performance)- TCS की सहायक कंपनी Diligenta ने लगातार खराब प्रदर्शन किया है। कंपनी को जल्द ही प्रदर्शन में सुधार की उम्मीद नहीं है और इस तरह चीज़े टीसीएस की बॉटम-लाइन को प्रभावित करता है।

3) Opportunity:-

  • Digital growth opportunities- जिस तरह दुनिया तेरी से डिजिटल होती जा रही है ऐसे में भविष्य में टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में बहुत सारे अवसर मौजूद हैं और उसी दिशा में टीसीएस कंपनी खुद को ग्रो कर रही है ऐसे में TCS के पास बहुत से अवसर हैं। व्यवसाय की गतिशीलता डिजिटल अर्थव्यवस्था में भी बदल रही है। TCS ने डिजिटल रूप से खुद को बदलने और डिजिटल समाधान प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित किया है। TCS को डिजिटल परिवर्तन प्रौद्योगिकियों पर अधिक खर्च करने के लिए तत्पर रहना चाहिए।
  • Cloudbase technology- Digital transforming टेक्नोलॉजी और तेज़ इंटरनेट कनेक्टिविटी के आगमन के साथ। दुनिया क्लाउड आधारित समाधानों की ओर बढ़ रही है और वास्तव में, क्लाउड सेवाओं पर खर्च अगले 5 वर्षों में 19% से अधिक CAGR में बढ़ने की उम्मीद है। TCS के पास क्लाउड-आधारित समाधान प्रदान करने के लिए एक ठोस बुनियादी ढांचा है और इसलिए यह अच्छी तरह से तैयार की गई Demand से Benefit उठाने के लिए तैयार है।
  • Machine to Machine solutions- Machine to Machine समाधान वे हैं जो वायरलेस और साथ ही वायर्ड संचार प्रणालियों की अनुमति देते हैं। भविष्य में एम 2 एम समाधान के लिए एक सकारात्मक दृष्टिकोण है और High revenue generate करने की उम्मीद है। TCS में M2M सेवाओं का एक व्यापक सूट है जो M2M समाधानों की मांग का लाभ उठाने में सक्षम होगा।
  • Enterprise mobility market- बढ़ते हुए, मोबाइल Users की आबादी और मोबाइल उपकरणों के उपयोग में वृद्धि के साथ, Enterprise mobility solutions व्यावसायिक अनुप्रयोगों द्वारा संचालित होने की उम्मीद है। गतिशीलता समाधानों की एक Latent demand है जो 2022 तक 24.7% की CAGR से बढ़ने की उम्मीद है। टीसीएस के बढ़ते उद्यम गतिशीलता समाधान पर ध्यान देने के साथ, यह लाभ के लिए अच्छी तरह से स्थित है।

4) Threats:-

  • Immigration restriction effect- Tough immigration कानूनों के साथ, H-1B वीजा शुल्क में वृद्धि और अमेरिका में राजनीतिक परिस्थितियों को बदलते हुए, भारतीय आईटी कंपनियों को इससे पीड़ित होने की उम्मीद है क्योंकि इससे इसकी लागत और प्रभाव लाभप्रदता बढ़ जाएगी और इसलिए यह उद्योग के लिए खतरा है।
  • Competition- जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया टीसीएस कंपनी का कंपटीशन इन कंपनियों के साथ है- Infosys technology limited, Tech Mahindra, Wipro cooperation, Sapient cooperation, IBM, HCL, technologies. और यह कंपनियां भी अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं इससे इन कंपनियों के बीच Pricing & Services का मतभेद रह सकता है।
  • Skilled full employees- भारतीय आईटी उद्योग में Skilled full employees होना कंपनी के लिए बहुत अच्छा है जो कंपनी को ऊपर ले जाने में बहुत अहम है यूं कहें तो यह कंपनी की जड़ है। जिस कंपनी में एंप्लाइज की ट्रेनिंग और उनकी Skills पर ध्यान दिया जाता है वह कंपनी हमेशा Growth करती हैं।

दोस्तों आपको TCS company case study कैसी लगी नीचे कमेंट में बताएं और आप अगली केस स्टडी किस कंपनी के ऊपर जाते हैं यह भी कमेंट में बताएं। दोस्तों आपको इस स्टडी से कुछ सीखने को मिलता है तो आप अपने दोस्तों को भी शेयर करें। यदि आपका कोई सुझाव यह सवाल तो आप कांटेक्ट में दे सकते हैं।

धन्यवाद्।।

One thought on “TCS company case study in Hindi ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *